दवा कारोबारी के बेटे का संदिग्ध परिस्थिति में मिला शव


वाराणसी। गंगा नदी के शीतला घाट पर शुक्रवार को मच्छोदरी निवासी दवा कारोबारी सुनील गुप्ता के पुत्र ऋषभ गुप्ता (22) का शव मिला। पुलिस ने ऋषभ के मोबाइल को कब्जे में लेकर कॉल डिटेल खंगाल रही है। ऋषभ का शव मिलने के बाद यह चर्चा रही कि उसने आखिरी कॉल अपनी गर्लफ्रेंड को ही की थी।

मच्छोदरी स्थित बिड़ला अस्पताल के सामने की गली में रहने वाले सुनील गुप्ता की मकान के नीचे दवा की दुकान है। दो बेटों में छोटा ऋषभ पढ़ाई करने के साथ ही पिता के साथ दुकान पर बैठता था। परिजनों के मुताबिक गुरुवार की रात खाना खाने के बाद ऋषभ मुकीमगंज स्थित दूसरे मकान पर सोने की बात कह कर स्कूटी लेकर निकला था। रात में जब ऋषभ मकान पर नहीं पहुंचा तो परिजनों ने उसकी खोजबीन शुरू की, लेकिन उसका पता नहीं चला। शुक्रवार की सुबह सुनील गुप्ता अपने लड़के की गुमशुदगी दर्ज कराने सुनील आदमपुर थाने पहुंचे। इस दौरान पता लगा कि गायघाट के बगल में स्थित शीतला घाट पर एक युवक की लाश मिली है। इस पर परिजनों के साथ ही पुलिस भी मौके पर पहुंची। शव की शिनाख्त ऋषभ के रूप में हुई। घटना को लेकर चर्चा है कि ऋषभ ने प्रेम प्रसंग के चक्कर में आत्महत्या की है। सीओ कोतवाली प्रदीप सिंह चंदेल ने बताया कि गायघाट से शीतला घाट की ओर जाने वाली गली में ऋषभ की स्कूटी मिली है। ऋषभ के पास से मिला उसका मोबाइल पानी में भीग जाने के कारण बंद है। पुलिस मोबाइल का कॉल डिटेल खंगालने के साथ ही मोबाइल को ठीक कराकर उसका डाटा रिकवर करने की कोशिश कर रही है।



Post a Comment

0 Comments