बलिया : मिशन शिक्षण संवाद की ऑनलाइन कार्यशाला का शुभारंभ, जानें शिक्षकों के लिए क्या रहा खास


बलिया। मिशन शिक्षण संवाद टीम बलिया द्वारा शिक्षकों के लिए 7 दिवसीय ऑनलाइन ICT कार्यशाला का शुभारम्भ मिशन शिक्षण संवाद के प्रेरणास्रोत विमल कुमार ने किया। इस प्रशिक्षण का उद्देश्य प्राथमिक अध्यापकों को वर्तमान की तकनीक से जोड़कर शिक्षण व्यवस्था को सरल और रोचक बनाना है। बता दें कि मिशन शिक्षण संवाद स्वयंसेवी अध्यापकों का एक संगठन है, जो बेसिक शिक्षा में सुधार के लिए निरंतर प्रयत्नशील है।

विमल कुमार ने मिशन शिक्षण संवाद के शुरुआती दौर से लेकर आज की यात्रा का वर्णन किया।  बताया कि किस तरह से शिक्षकों के सामूहिक प्रयास से आज समाज में लोगों की धारणा बेसिक शिक्षा के प्रति बदल रही है। अपने एक मित्र का उदारहण देकर उन्होंने बताया कि किस तरह जो लोग बेसिक शिक्षा से बहुत दूर हैं वो लोग भी बेसिक के अध्यापकों के कार्यों को देख, सुन, और समझ रहे हैं।

अजीत कुमार सिंह और नंदलाल शर्मा द्वारा सभी प्रतिभागियों को कार्यक्रम से परिचित कराया गया। आज के उद्घाटन सत्र को हरदोई के आशीष सर, जौनपुर के शिवम सर, अलीगढ़ की प्रिया मैंम, फर्रूखाबाद की पूजा सचान मैंम, बलिया जनपद के SRG संतोष तिवारी सर, प्रांजल सर, ज्योति मैंम आदि ने सम्बोधित किया। उद्घाटन सत्र कार्यक्रम में श्रावस्ती की सुनीता मैंम द्वारा पिक्सेल लैब पर काम करना बताया गया। प्रस्तोता सुनीता मैंम और पूजा सचान मैंम द्वारा पिक्सेल लैब का प्रयोग करके रंगीन और आकर्षक पोस्टर, बैनर, निमंत्रण कार्ड, वर्कशीट इत्यादि बनाना बताया गया। 

उन्होंने बताया कि बेसिक शिक्षा में जिस प्रकार से ऑनलाइन क्लास संचालित की जा रही है, हम अपने मोबाइल फ़ोन से ही आसान तरीके से पिक्सेल लैब का प्रयोग करके बहुत ही रचनात्मक तरीके से प्रश्नों को फ़ोटो और वीडियो के माध्यम से बच्चों के सामने प्रस्तुत कर सकते हैं। अपनी बातों को लिख कर पिक्सेल लैब के माध्यम से उसे अच्छा बना सकते हैं। जो अध्यापक यूट्यूब का प्रयोग करके ऑनलाइन शिक्षण कार्य करना शुरू किए हैं वो इस पिक्सेल लैब ऐप्प के माध्यम से आकर्षक थम्बनेल बना सकते हैं और अपने वीडियो की पहुंच ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचा सकते हैं।

प्रबंध समिति की बैठक के लिए हम आकर्षक कार्ड बना कर लोगों को निमंत्रण दे सकते हैं।विद्यालय की प्रवेश प्रक्रिया के लिए पोस्टर बनाकर हम अधिक से अधिक लोगों और जगहों तक अपनी बात पहुंचा सकते हैं। बच्चों के लिए हम शिक्षण अधिगम सामग्री का निर्माण हम इसके माध्यम से कर सकते हैं। प्रशिक्षण के अगले दिनों में PPT और वीडियो बनाने का प्रशिक्षण दिया जाएगा। कार्यक्रम में श्वेता सिंह,रं जना पाण्डेय, हरिकृष्ण पाण्डेय, अनुराग तिवारी, सीमा यादव, सोनम गुप्ता, चंदन कुमार, प्रदीप श्रीवास्तव, दिव्या पुरी आदि प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया। संचालन नंदलाल शर्मा और टेक्निकल कार्य श्वेता सिंह ने किया।

Post a Comment

0 Comments