करेंट से युवा रेलकर्मी की मौत से मचा हड़कम्प, जांच का आदेश


वाराणसी। पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल कार्यालय के पावर सब स्टेशन पर विद्युत हेल्पर खलासी के पद पर कार्यरत पुलेन्द्र सिंह (28) रविवार की स्विच रूम में काम करते समय विद्युत स्पर्शाघात का शिकार हो गए। विद्युत स्पर्शाघात के बाद सहकर्मियों द्वारा उन्हें मंडल चिकित्साल के इमरजेंसी में ले जाया गया, जहां चिकित्साधिकारी ने मृत घोषित कर दिया। 

अयोध्या सिंह के तीन पुत्रों में सबसे बड़े पुत्र पुलेन्द्र सिंह मूलरूप से सासाराम (बिहार) के निवासी थे। पुलेन्द्र सिंह रेलवे रिक्रूटमेंट सेल, गोरखपुर के माध्यम से 2013 में रेल सेवा में आये थे। वे अपने पीछे पत्नी और एक वर्षीय पुत्री छोड़ गए है। घटना की जानकारी होते ही मंडल रेल प्रबंधक वीके पंजियार एवं वरिष्ठ मंडल विद्युत इंजीनियर सत्येंद्र यादव मंडल चिकित्सालय पहुंचकर घटना का संज्ञान लिया। संवेदना व्यक्त की और मृतक के परिवार को हर सम्भव मदद का ढांढस बंधाया।

बताया कि उक्त मामले की उच्चस्तरीय जांच कराई जाएगी। इसके लिए जांच कमेटी का गठन कर दिया गया है। टीम में पूर्वोतर रेलवे के मुख्य संरक्षा अधिकारी एसएन साह एवं चीफ इलेक्ट्रिकल जनरल इंजीनियर वीके यादव नामित किया गया है। कमेटी दुर्घटना की जांच करने बाद रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगी।

Post a Comment

0 Comments