बलिया के शिक्षामित्रों ने DM के समक्ष रखी ये मांग

-राशन वितरण में लगे शिक्षामित्रों ने मांगा पारिश्रमिक
-बीएसए को दिया डीएम को संबोधित मांग पत्र


बलिया। कोटे की दुकानों पर राशन वितरण की मानिटरिंग के लिए लगाए गए शिक्षामित्रों ने पारिश्रमिक की मांग की है। इसके लिए बुधवार को उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ का प्रतिनिधिमंडल उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के जिला प्रभारी पंकज सिंह के नेतृत्व में बीएसए शिवनारायण सिंह से मिलकर जिलाधिकारी को संबोधित ज्ञापन सौंपा।  

ज्ञापन के माध्यम से  अवगत कराया गया है कि शिक्षा मित्र बेसिक शिक्षा विभाग के  प्राइमरी स्कूलों में अध्यनरत छात्रों को पढ़ाते हैं। वे वर्तमान समय में आर्थिक संकट से गुजर रहे हैं। उन्हें प्रतिमाह दस हजार रुपये की पगार 11 माह ही मिलती है। इस समय कोरोना महामारी के खिलाफ जिला प्रशासन की ओर चलाये जा रहे बचाव अभियान में शिक्षा मित्र भी कंधे से कन्धा मिलाकर सहयोग कर रहे हैं।


विडम्बना यह है शिक्षा मित्रों को विभाग जून की पगार के रूप में फूटी कौड़ी भी नहीं देता है। बहुत से शिक्षामित्र परिवार का खर्च चलाने के लिए जून माह में कोई अस्थाई रोजगार करते हैं। पिछले दिनों जून माह में भी जिले के अधिसंख्य शिक्षा मित्रों की ड्यूटी गांवों में राशन वितरण कराने में लगा दी गयी। इसका उन्हें कोई मेहनताना नहीं मिलेगा। ऐसे शिक्षामित्रों के लिए जून माह में अपने परिवार का पेट पालना मुश्किल हो गया है। उनके और उनके परिजनों के सामने भुखमरी की स्थिति खड़ी हो गई।

प्रतिनिधि मंडल ने वैश्विक महामारी के दौरान  ड्यूटी करने वाले शिक्षा मित्रों की आर्थिक स्थिति पर सहानुभूति पूर्वक विचार करते हुए, उन्हें जून में राशन वितरण कराने की ड्यूटी के एवज में पारिश्रमिक दिलाने की मांग की।पत्रक देने में अमृत सिंह, अमित मिश्र, बृजेश सिंह, दिलीप प्रसाद, शशिभान सिंह, राजेश प्रजापति, सत्येंद्र मौर्य, शिवकुमार सिंह, अखिलेश पांडे, मनीष सिंह आदि थे।

Post a Comment

0 Comments