भाभी का कत्ल करने के बाद देवर ने खुद को मारी गोली, जांच में जुटी पुलिस


फर्रुखाबाद। कायमगंज कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में फुफेरा देवर ने भाभी की गोली मारकर हत्या कर दी। फिर खुद को भी गोली मारकर खुदकशी कर ली। घटना के बाद गांव में सनसनी फैल गई, पति की मौत के बाद महिला घर में सास और बच्चों के साथ रहती थी। घटना के समय छोटा बेटा ही घर पर था। पुलिस ने प्राथमिक जांच में दोनों के बीच संबंध होने के चलते घटना होने की बात कही है।

कायमगंज के गांव सोतेपुर में रजनेश यादव की मौत के बाद पत्नी कृपांती, दो बेटों 12 वर्षीय पुत्र अंशुल और आठ वर्षीय आकाश तथा सास के साथ रहती थी। रजनेश की मौत होने के बाद बाद एटा जिले के नयागांव थाना क्षेत्र के गांव नावर निवासी फुफेरे भाई 40 वर्षीय भंवरपाल का घर आना जाना शुरू हो गया था। वह अक्सर ही गांव आकर घर पर रुकता था। रविवार को कृपांती और आठ वर्षीय बेटा आकाश घर में अकेले थे। बड़ा बेटा अंशुल ननिहाल उलियापुर गया था और सास अपने मायके अजीजपुर गई थी। दोपहर में भंवरपाल आ गया और कृपांती के पास पहुंच गया। आकाश को कुछ लाने बाहर भेजने दिया। 

इस बीच गोली चलने की आवाज सुनकर ग्रामीण पहुंचे तो गोली लगने से लहूलुहान कृपांती जमीन पर पड़ी थी। ग्रामीणों को देखकर भंवरलाल भागने लगा तो ग्रामीणों ने पीछा किया। इसपर कुछ दूर भागने के बाद भंवरपाल ने तमंचा कनपटी पर रखकर खुद को गोली मार ली। सूचना पर पहुंचे प्रभारी निरीक्षक विनय प्रकाश राय को ग्रामीणों ने बताया कि भंवरपाल ने कृपांती की गोली मारकर हत्या के बाद खुद को गोली मारी है। पुलिस ने देखा तो कृपांती की मौत हो चुकी थी, जबकि भंवरपाल में हरकत देखकर तुरंत सीएचसी भेजा। अस्पताल पहुंचने से पहले भंवरपाल ने भी दम तोड़ दिया।


Post a Comment

0 Comments