बलिया : लूट की सूचना मिलते ही पुलिस अलर्ट, जानें पूरा मामला


बैरिया, बलिया। भाजपा जयप्रकाशनगर के पूर्व मंडल अध्यक्ष नंदजी सिंह से हुई दो लाख रुपये की लूट की सूचना पर पुलिस हांफती रही। कोतवाल बैरिया संजय त्रिपाठी व एसएचओ दोकटी अमित सिंह के साथ सीओ बांसडीह दीपचंद तत्काल मौके पर पहुंच गये।पुलिस का कहना है कि मामला लूट का नहीं, बल्कि आपसी लेनदेन के विवाद का है। वही, पूर्व मंडल अध्यक्ष का आरोप है कि मेरे साथ लूट हुई है।

इब्राहिमाबाद नौबरार (अठगांवा) के कटान स्थल पर उसी गांव के निवासी पूर्व मंडल अध्यक्ष नंदजी सिंह कटानरोधी कार्य करा रहे हैं। सिंचाई विभाग के ठेके में कटान स्थल पर बोल्डर का काम चल रहा है। उसी कार्य स्थल पर टोला बाजराय निवासी विमलेश यादव का ट्रैक्टर भी काम में लगा हुआ है। कुछ दिन पूर्व विमलेश यादव का ट्रैक्टर पत्थर का बोल्डर लेकर आने वाले डंपर से टकरा गया था, जिससे ट्रैक्टर को काफी नुकसान हुआ था। तब नंदजी सिंह ने पंचायत कर ट्रैक्टर बनवा देने की बात कहते हुए डंपर चालक से 25 हजार रुपये विमलेश यादव को दिलवा दिए थे। दो हजार रुपये और देने थे। वह पैसा लेकर शुक्रवार को विमलेश यादव के गांव टोला बाज राय नंदजी सिंह गए। आरोप है कि पहले से ही विमलेश यादव चार-पांच दोस्तों के साथ शिवन टोला-जयप्रकाशनगर मार्ग पर गांव के सामने खड़ा था।

आरोप है कि नंदजी सिंह ने दो हजार रुपये देने के लिए 50 हजार रुपये की गड्डी जेब से निकाल कर उसमें से दो हजार रुपये निकालने लगे, तब तक विमलेश ने नोटों की पूरी गड्डी नंदजी सिंह के हाथ से छीनने के साथ ही हीरो होंडा साइन मोटरसाइकिल (बीआर 04 एइ 5080) भी छीन लिए। नंदजी सिंह ने मौके से ही 112 नंबर पुलिस को सूचना दी। 112 नंबर पुलिस के पहुंचने से पहले ही गाड़ी सड़क पर छोड़कर विमलेश अपने साथियों समेत चला गया। 

मौके पर पहुंची पुलिस ने नंदजी सिंह को पुलिस चौकी चांद दियर चलने को कहकर विमलेश को उसके घर से पुलिस चौकी ले आई। विमलेश यादव का कहना है कि हमारा ट्रैक्टर बनाने में 79 हजार रुपये खर्च हुए है, इन्होंने मुझे केवल 25 हजार रुपये दिए है। दो हजार और दे रहे थे। तब मैंने इनकी मोटरसाइकिल छीन ली थी। पैसा मैंने नहीं छीना है, जबकि नंद जी सिंह का कहना है कि पैसा व गाड़ी छीनने के साथ साथ विमलेश व उनके साथियों ने मेरे साथ मारपीट भी की। समाचार लिखे जाने तक चांद दियर पुलिस चौकी पर पुलिस दोनों पक्षों को बैठाकर मामले की पड़ताल में जुटी है। एसएचओ ने बताया कि घटना लुट का नही लेन देन का है।


शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments