अब बलिया में ही कोरोना जांच, जानें रिपोर्ट मिलने में कितना लगेगा समय


बलिया। कोरोना संक्रमण के मरीज दिन प्रतिदिन बढ़ रहे है। देश भर में दो लाख के ऊपर संक्रमित मरीजों की संख्या हो गई है। कोरोना संकमण को लेकर लोगों में भय का माहौल बना हुआ है, लेकिन अब कोरोना संक्रमण की जांच को लेकर टेंशन लेने की कोई जरूरत नहीं है। सरकार ने हर जिले में ट्रूनट मशीन भेजा है। इससे एक घंटा के अंदर दो संदिग्धों की जांच हो जाएगी। जिला अस्पताल में बुधवार को एक्सपर्ट चिकित्सकों ने इसे चलाने की ट्रेनिग भी ली। 

अस्पताल प्रशासन की ओर से बताया जा रहा है कि दो-चार दिनों में ट्रेनिग खत्म होने के बाद जनपद के कोरोना संदिग्धों की जांच भी यहीं पर एक घंटा के अंदर हो जाएगी। मरीजों को मिलेगी राहत। इस मशीन के आ जाने के बाद सरकारी अस्पतालों की इमरजेंसी सेवाएं भी गति पकड़ेंगी। जनपद से सैंपल कोरोना जांच के लिए वाराणसी लैब जाता है। वहां से रिपोर्ट आने में तीन से चार दिन लग जाता है। इस बीच संक्रमित मरीज कई लोगो के सम्पर्क में आ जाता है। लेकिन अब इससे प्रशासन को राहत मिलेगी।

कोरोना महामारी में कोरोना पॉजिटिव या निगेटिव स्पष्ट नहीं के होने के कारण बहुत से मरीजों के गंभीर रोगों का उपचार नहीं हो पा रहा था। जिला अस्पताल के चिकित्सक डॉ मिथिलेश सिंह बताते हैं कि मशीन से जांच में यदि रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो मरीज की आरटीपीसीआर जांच की जाती है। वहीं ट्रूनट मशीन पर संदिग्ध व्यक्ति की रिपोर्ट निगेटिव पाए जाने पर आरटी-पीसीआर करने की कोई जरुरत नहीं पड़ेगी। अब इस मशीन से एक घंटे में ही सबकुछ स्पष्ट हो जाएगा।

Post a Comment

0 Comments