विरोध : बलिया में लालू यादव संग युवाओं ने एनएच-31 पर शुरू किया मछली पालन


बैरिया, बलिया। बैरिया तहसील क्षेत्र के नवका टोला गांव के पास पूर्व सांसद व भाजपा के वरिष्ठ नेता भरत सिंह के पैतृक आवास के सामने युवाओं ने राष्ट्रीय राजमार्ग 31 पर बने गड्ढे में गुरुवार को मछली पालन के निमित्त मछली के छोटे-छोटे बच्चों को डाला।

एनएच 31 की मरम्मत के लिए कई बार अनशन, आंदोलन और आत्म-दाह जैसे प्रयास करने के उपरांत अभी तक मरम्मत नहीं होने से क्षतिग्रस्त एनएच-31 पर 7 जून रविवार को युवाओं ने धान की रोपाई की थी। कहा था कि जब सड़क चलने लायक नहीं तो इस पर खेती और मछली पालन करने से क्षेत्रीय लोगों को रोजगार मिलेगा। उसी के क्रम में समय से पहले मानसून आने के बाद एनएच 31 पर बने गढ्ढो में पानी लबालब हो गया है। गुरुवार को पूर्व जिला पंचायत सदस्य व युवा सपा नेता ओमप्रकाश उर्फ लालू यादव के नेतृत्व में सैकड़ो युवाओं ने राष्ट्रीय राजमार्ग-31 के नवकटोला गांव के पास सड़क पर बने बृहद गड्ढे में मछली के बच्चों को छोड़कर मछली पालन कर विरोध जताया।

लालू यादव ने कहा कि केंद्र व राज्य दोनों में भाजपा की सरकार है और सरकार ने गड्ढे मुक्त सड़क की घोषणा भी किया है। आज छः वर्षो से एनएच-31 की हालत इतनी जर्जर हो गई है कि दर्जनों लोग अपनी जान गवां बैठे है। सैकड़ों लोगों का हाथ-पैर टूटने के कारण विकलांग का जीवन यापन करना पड़ रहा है। इस सड़क को लेकर दर्जनों बार क्षेत्रीय युवाओं द्वारा अनशन, आंदोलन तथा आत्म-दाह जैसे प्रयास किया गया, परन्तु प्रसाशन और जनप्रतिनिधियों से सिर्फ अश्वासन मिला। उन्होंने कहा कि बेलहरी से लेकर मांझी तक लगभग 25 किलोमीटर की सड़क सिर्फ क्षतिग्रस्त ही नहीं, यात्रियों के लिए जानलेवा साबित हो रही है।

इस मौके पर विवेक तिवारी, सुधीर यादव, बीरबल यादव, संदीप त्यागी, भूपेंद्र 'गोलू', अरविंद यादव, सागर यादव, संदीप तिवारी, विशाल यादव, गोलू 'राज', दीपू यादव, रमाकांत यादव तथा रवि 'रफ्तार' आदि युवाओं ने कहा कि एनएच सड़क पर इतने बड़े-बड़े गड्ढे बने है कि बरसात में मछली पालन कर युवा आत्म निर्भर बन सकेंगे।

शिवदयाल पांडेय 'मनन'


Post a Comment

0 Comments