गोरखपुर : संयुक्त मजिस्ट्रेट व तहसीलदार होम क्वारंटाइन, ये रही वजह


गोरखपुर। सहजनवां तहसील की ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/एसडीएम अनुज मलिक व तहसीलदार लालजी विश्वकर्मा ने खुद को होम क्वारंटाइन कर लिया है। दोनों अधिकारी गीडा स्थित पूर्वांचल डेंटल कॉलेज के क्वारंटाइन सेंटर में कोरोना पॉजिटिव पाए गए युवक के संपर्क में आए थे। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. श्रीकांत तिवारी की सलाह पर उन्होंने यह निर्णय लिया। दोनों अधिकारियों के नमूने जांच के लिए बीआरडी मेडिकल कॉलेज भेजे गए हैं। 

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट अनुज मलिक ने बताया कि शुक्रवार को वह शासन की ओर से तैनात नोडल अधिकारी अपर आयुक्त गन्ना प्रमोद कुमार उपाध्याय के साथ पूर्वांचल डेंटल कॉलेज में बने क्वारंटाइन सेंटर पहुंची थीं। निरीक्षण के दौरान उन्होंने और तहसीलदार ने संक्रमित मिले युवक के पास जाकर उसका हालचाल लिया था। युवक की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो सभी सतर्क हो गए। इसके बाद युवक के संपर्क में आने वालों की सूची (कांटेक्ट ट्रेसिंग) बनी। इस सूची में संक्रमित युवक से मिलने वालों में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट और तहसीलदार का भी नाम शामिल था। सीएमओ ने इसकी जानकारी जैसे ही दोनों अधिकारियों को दी, वे सीधे घर पहुंच गए और स्वयं को होम क्वारंटाइन कर लिया।

Post a Comment

0 Comments