पुलिस केस वापस लेने के लिए शिक्षिका पर दबाव, ये है मामला

                

नई दिल्ली। राजस्थान के भरतपुर में एक सरकारी स्कूल की शिक्षिका ने प्राचार्य के खिलाफ छेड़खानी का मुकदमा दर्ज कराया है। मामला सीकरी थाना क्षेत्र के कुरकैन गांव स्थित सरकारी स्कूल का है। इस शिकायत के बाद पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। उसने  आरोप लगाया है कि प्राचार्य कई महीनों से उसके साथ अश्लील हरकत करता आ रहा था। पुलिस शिकायत के बाद अब उसे प्राचार्य से धमकी मिल रही है कि 'केस वापस लो, नहीं तो समाज में बदनाम कर दूंगा'।

शिक्षिका की पोस्टिंग सीकरी थाने के उक्त स्कूल में वर्ष 2018 में हुई थी। आरोपों के अनुसार पिछले वर्ष से ही स्कूल प्राचार्य भगवान सिंह उसके साथ जबरदस्ती अश्लील हरकत करता आ रहा था। वह कई महीनों मुझे जब चाहे स्कूल में दबोच लेता था। अब मैंने उसके खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज कराया है तो वह मुझको धमकी दे रहा है कि तुमने पुलिस केस वापस नहीं लिया तो तेरे साथ गलत काम कर दूंगा। समाज में बदनाम कर तेरी शादी नहीं होने दूंगा। इसके अलावा वह पुलिस मामला वापस लेने के लिए हम पर राजनीतिक दबाव भी बना रहा है'।

शिक्षिका के साथ यौन शोषण का आरोपी प्राचार्य नगर तहसील के गांव सिरथला का निवासी है। उसका बहनोई नगर से पूर्व विधायक है और जिसपर अब पीड़िता के परिजनों पर दबाव डालते हुए धमकी देने का आरोप है। पीड़िता ने 29 अप्रैल को सीकरी थाने में पुलिस में मामला दर्ज कराया था। 



Post a Comment

0 Comments