...और खेत में ही खुद को क्वारंटाइन कर लिया बलिया का यह शख्स


बलिया। कोरोना को हराने के लिए लोग अपना तरकीब अपना रहे है। लॉकडाउन का पालन करते हुए बाहर से आने वाले कुछ जागरूक लोग क्वारंटाइन को लेकर सफल संदेश भी दे रहे है। इन्हीं जागरूक लोगों में शामिल है बैरिया तहसील क्षेत्र के दुर्जनपुर गांव निवासी परशुराम। पानीपत से अपने घर आये परशुराम अपने और अपनों को बचाने के लिए न तो होम कोरेण्टाइन है न ही किसी कोरेण्टाईन सेंटर में है, बल्कि घर से दूर खेत में ही तिरपाल टांगकर खुद को क्वारंटाइन किये हुए है। 

दुर्जनपुर निवासी परशुराम हरियाणा के पानीपत अपनी पुत्री के यहां सगाई में गए थे। लाकडाउन में वही फंस गए थे। करीब दो महीने बाद बेटी और उसके पुत्र के साथ  उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की बस से बलिया अपने घर दुर्जनपुर पहुंचे, जहां वो अपने घर न जाकर खेत मे ही कोरेण्टाईन है। इसी तरह मुन्ना यादव है, जो मुम्बई में काम करते थे। निजी साधन से बलिया पहुंचे, मगर कोरोना से बचने और अपनों को बचाने के लिए किसी कोरेण्टाईन सेंटर या अपने घर न जाकर खेत मे ही कोरेण्टाईन है। आपको बता दे कि इनका यह गांव हाट स्पाट जोन घोषित है।

Post a Comment

0 Comments