हेल्थ एंड फेमिली विभाग में मेडिकल अफसर बना बलिया का लाल, चहुंओर खुशी


बिल्थरारोड, बलिया। बिल्थरारोड नगर के उमरगंज निवासी डा. मु. कमरे आजम का चयन संघ लोक सेवा आयोग के तहत हेल्थ एंड फेमिली विभाग में मेडिकल अफसर पद पर हुआ है। इससे जिले व क्षेत्र में खुशी की लहर है। डॉ. आजम ने सन् 2017 में जामिया हमदर्द मेडिकल कालेज नई दिल्ली से एमबीबीएस किया था। उनके सेवानिवृत पिता डा. असगर अली सीएचसी सीयर में चिकित्सक पद पर कार्य कर चुके है। एमडी की परीक्षा की तैयारियों में जुटे डॉ.  कमरे आजम ने तीन वर्ष के दौरान एक बार होने वाली इएसआइ (इम्ंप्लाई स्टेट इंश्योरेंश) की परीक्षा पास कर तिलकनगर, नई दिल्ली में मेडिकल आफिसर के रूप में तैनात थे।

इस दौरान भी उनकी संघ लोक सेवा आयोग परीक्षा की तैयारी जारी रही। उनकी इस सफलता से नगर व क्षेत्र में खुशी की लहर है। स्थानीय नेशनल पब्लिक स्कूल से 2008 में हाई स्कूल व ज्ञानकुंज एकेडमी वंशीबाजार से 2010 में इंटरमीडिएट प्रथम श्रेणी से पास करने वाले डॉ. कमरे आजम बीएचयू वाराणसी में बीएसई में दाखिला ले लिए। इस दौरान उन्होने पीएमटी के लिए तैयारी शुरू कर दी। 

2012 में पीएमटी परीक्षा पास कर डॉ. आजम ने जामिया हमदर्द दिल्ली में एमबीबीएस में दाखिला लिया। 2017 में एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी करने के बाद वहीं जूनियर रेजिडेंसी के रूप में कार्यरत रहे। इस दौरान भी उनका एमडी के लिए अध्ययन जारी रहा। 26 दिसम्बर 2018 को उन्होने इएसआई की प्रतियोगी परीक्षा में भी भाग लिया। इसमें क्वालीफाई करने के बाद तिलक नगर, नई दिल्ली में मेडिकल अफसर के रूप में तैनाती हुई। बावजूद इनका संघलोक सेवा के लिए तैयारी जारी रही। 

मां-पिता व भाईयों का निर्देशन आया काम

डा. आजम अपनी इस सफलता के पीछे अपने मां हसीबुल निशा व पिता डॉ. असगर अली का आशीर्वाद तथा ओएनजीसी में भू वैज्ञानिक  अपने बड़े भाई मु. फखरे आजम एवं भाई फारूख आजम के कुशल दिशा निर्देशन का हाथ मानते है। उन्होने कहा कि लगातार अध्ययन व लक्ष्य निर्धारण सफलता का मूल मंत्र है। 

10 घंटे अध्ययन करें प्रतियोगी

उन्होंने प्रतियोगी परीक्षार्थियों की तैयारी कर रहे छात्रों को सलाह देते हुए कहा कि सफलता के लिए नियमित 10 घंटे अध्ययन आवश्यक है । उधर उनकी इस सफलता को लेकर लोगों में काफी खुशी है। इस सफलता पर बधाई देने वालों में शाहिद भाई, प्रशांत कुमार मंटू, खालिद भाई, सुनील कुमार टिंकू, अमित श्रीवास्तव, मोनू मोदनवाल व प्रधान प्रतिनिधि अब्दुल रहमान प्रमुख थे।

Post a Comment

0 Comments