बिना थके-बिना हारे घर की दूरी नाप रहे प्रवासियों का 'पड़ाव' बना बलिया का यह गांव


मझौवां, बलिया। भूखे, प्यासे, पैरों में छाले, फिर भी मजबूत कदम मंजिल की तरफ आगे बढ़े जा रहे है... रास्ते में कही कुछ मिल गया तो ठीक, वरना रूकना क्या ? लेकिन कही न कही इन्हें 'रहनुमा' के रुप में इंसान मिल ही जा रहे है, जो इनकी भूख और प्यास बुझाने की कोशिश करते है। कुछ ऐसा ही नेक कार्य गंगापुर की समग्र समिति के सदस्य कर रहे है।

भूखे प्रवासी मजदूरों को गंगापुर ढाले पर 15 दिनों तक भोजन कराने का बीड़ा बेलहरी ब्लॉक के ग्राम सभा गंगापुर के समग्र समिति के सदस्यों ने उठाया है। इसका शुभारंभ मंगलवार को गंगा समग्र समिति के संयोजक अर्जुन शाह व समाजसेवी  अवनींद्र कुमार ओझा उर्फ पप्पू ने गंगापुर ढाले पर भोजन परोसकर शुभारंभ किया। 

बताते चलें कि अर्जुन शाह के नेतृत्व में एनएच 31 के बगल में ही लंगर चल रहा है। पहले दिन गंगा समग्र समिति के सदस्यों ने करीब 500 पैकेट बाहर से आ रहे भूखे प्रवासी मजदूरों में वितरित किया, जो निरंतर 15 दिन तक मां गंगा की कृपा से चलेगा। इस कार्य में गंगा समग्र समिति के सदस्य पंडित कौशल पांडे, कृष्णा यादव, गोपाल जी मिश्रा, समाजसेवी रिंकू गुप्ता, सोनू यादव, शिवजी यादव, अनिल पटेल, राजू यादव, जितेंद्र प्रसाद, वकील प्रसाद, गणेश गोंड, अलगू यादव इत्यादि जुटे है। 

हरेराम यादव

Post a Comment

1 Comments

  1. Delhi se Ballia k liya kb chalegi sarmik train reply kro plss

    ReplyDelete