Breaking News
Home » लखनऊ » ट्रेन में गर्मी से हालत बिगड़ी; चार यात्रियों की मौत

ट्रेन में गर्मी से हालत बिगड़ी; चार यात्रियों की मौत

लखनऊ। नई दिल्ली से त्रिवेंद्रम जा रही केरला एक्सप्रेस में सोमवार को भीषण गर्मी से चार यात्रियों की मौत हो गई। यात्रियों की तबीयत ग्वालियर के बादबिगड़ी, झांसी पहुंचने से पहलेही तीन लोगों ने दम तोड़ दिया। एक यात्री की मौत अस्पताल में उपचार के दौरान हो गई। शवों कोझांसी रेलवे स्टेशन पर उतारा गया। यह यात्री आगरा से कोयंबटूर जा रहे थे। चारों शवों को मंगलवार को पोस्टमाॅर्टम के लिए भेजा गया।

10 दिन पहले 68 लोगों का ग्रुप तमिलनाडु से वाराणसी और आगरा घूमने आया था। सोमवार दोपहर 2.30 बजे आगरा कैंट रेलवे स्टेशन से केरला एक्सप्रेस (12626) से वापस लौट रहे थे। सभी यात्री एस-8 औरएस-9 स्लीपर कोच में थे। जीआरपी झांसी के टीआई अजीत सिंह ने बताया कि जब केरला एक्सप्रेस डबरा-झांसी के बीच गुजर रही थी तभी 5 लोगों की तबीयत ज्यादा बिगड़ गई। इसकी सूचना उन्होंने ट्रेन में मौजूद टीटीई को दी। ट्रेन जब झांसी पहुंची तो टीटीई की सूचना पर रेलवे के डॉ. भरत कुशवाहा ने चेकअप किया।

तमिलनाडु के कोन्नूर नीलगिरी निवासी पाचीयप्पा के बुंदर पालानी सामी (80), बालाकृष्णन रामास्वामी (69) और कोयंबटूर निवासी चिन्नारे की 71 वर्षीय पत्नी धीवा नाई को मृत घोषित कर दिया। उट्टी कैन्नूर निवासी 87 वर्षीय सुबरय्या की हालत गंभीर होने के कारण उन्हें झांसी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। जहां देर रात उन्होंने दम तोड़ दिया।

डीआरएम नीरज अंबष्ठ ने बताया कि पोस्टमाॅर्टम होने के बाद मंगलवार को सभी शवों को केरल एक्सप्रेस के लगेज वैन से ताबूत में कोयम्बटूर भेजा जाएगा। मौत के कारणों की पुष्टि पोस्टमाॅर्टम रिपोर्ट से हो सकेगी।

Share With :
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel

About Poonam ( चीफ इन एडीटर )

चीफ इन एडीटर

Check Also

आज से प्रभावी होंगी बिजली की बढ़ी दरें, अब प्रति यूनिट करना होगा इतना भुगतान

लखनऊ। प्रदेश में बिजली की नई दरें बृहस्पतिवार से लागू हो जाएंगी। राज्य विद्युत नियामक …

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.