Home » खेल-खिलाड़ी » मैराथन के नाम पर बलिया खेल संगठनों का यह कैसा ‘खेल’

मैराथन के नाम पर बलिया खेल संगठनों का यह कैसा ‘खेल’

बलिया। मैराथन के नाम पर बलिया के खेल संगठनों का एक और काला झूठ प्रकाश में आया है, बलिया ओलम्पिक एसोसिएशन व बलिया एथलेटिक्स एसोसिएशन ने विगत दिनों स्टेडियम में धावक अनिल यादव का सम्मान समारोह आयोजित किया, जिसमें यह बताया गया कि डेनमार्क में आयोजित 43वीं World Cross country में अनिल यादव ने अन्डर सिक्स स्थान ग्रहण किया है, जबकि यह दावा पूर्णतः कपोल कल्पित व कूटरचित प्रमाणित हुआ है।

IAAF द्वारा आयोजित उक्त प्रतियोगिता में अनिल यादव बेस्ट 100 में भी स्थान नहीं बना पाये। प्रतियोगिता का विडियो देखने पर यह एकदम स्पष्ट हो रहा है कि चौथे लैप के बेस्ट 100 में भी अनिल यादव का स्थान नहीं है, यही नहीं जब प्रतियोगिता के बेस्ट धावक अपने चौथे लैप में थे उस वक्त अनिल अपने तीसरे लैप में थे। फिर अनिल को बेस्ट सिक्स में बता कर बलिया एथलेटिक्स एसोसिएशन व बलिया ओलम्पिक एसोसिएशन आखिर क्या प्रमाणित करना चाहता है ?

निःसन्देह अनिल एक अच्छा धावक है तथा किसी भी प्रतियोगिता में प्रतिभाग करना भी उपलब्धि है, लेकिन खेल संगठनों को खिलाड़ियों का राजनैतिक प्रयोग नहीं करना चाहिए। इसी प्रकार से विगत वर्ष में बलिया ओलम्पिक एसोसिएशन व बलिया वॉलीबाल एसोसिएशन ने एक वॉलीबाल खिलाड़ी को ईरान में आयोजित एशियाई वॉलीबाल चैम्पियनशिप में प्रतिभाग करने की खबर देते हुए सम्मान समारोह आयोजित किया था, जबकि प्रतियोगिता की आयोजन तिथि में सम्मानित खिलाड़ी बलिया में ही उपस्थित था, इन लगातार आ रही झूठी खबरों से यही प्रतीत हो रहा है कि बलिया के कतिपय खेल संघ झूठी व मनगठन्त खबरों के जरिये खुद ही अपनी पीठ थपथपा रहे हैं, और ऐसा करते वक्त उन्हें न तो खिलाड़ियों के आत्म सम्मान की परवाह है न ही खेल भावना का ध्यान।

Report: नीरज राय

Share With :
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel

About Poonam ( चीफ इन एडीटर )

चीफ इन एडीटर

Check Also

अष्ट शहीदों की धरती पर लगेगा वॉलीबाल का महाकुंभ

गाजीपुर। अष्ट शहीदों की पावन धरती शेरपुर में मार्च के अंतिम सप्ताह में वॉलीबाल का …

error: Content is protected !!
Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.