Breaking News
Home » धर्म-कर्म » धरा पर स्वर्ग : पीतवस्त्रधारियों से पटी भृगुनगरी

धरा पर स्वर्ग : पीतवस्त्रधारियों से पटी भृगुनगरी

बलिया। भगवान भाष्कर की लालिमा के साथ ही महाबीर घाट स्थित गायत्री शक्तिपीठ पर श्रद्धालुओं के पहुंचने का जो सिलसिला शुरू हुआ, वह निरंतर चलता रहा। शक्तिपीठ पर पहुंचने वाले श्रद्धालु पूजा कार्यक्रम में शामिल होते गये। करीब साढ़े ग्यारह बजे मां गायत्री की मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा एवं 108 कुंडीय गायत्री महायज्ञ की कलश यात्रा निकली। गायत्री तीर्थ शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वावधान में आयोजित इस महायज्ञ की कलश यात्रा में पीला वस्त्रधारी श्रद्धालुओं की छटा देखते ही बन रही थी। अलौकिक झांकियों व बैण्ड बाजा की मधुर धुन शोभा यात्रा की रौकनता में चार चांद लगा रही थी। वाराणसी जोनल प्रभारी प्रसेन सिंह एवं बलिया के प्रमुख विजेन्द्र नाथ चौबे के नेतृत्व में निकाली गई शोभा यात्रा करीब तीन किलोमीटर लम्बी थी, जिस पर हो रही पुष्प वर्षा धरा पर स्वर्ग का एहसास करा रही थी।

शोभा यात्रा में बतौर मुख्य अतिथि भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह तथा विशिष्ट अतिथि सदर विधायक आनंद स्वरूप शुक्ल, चेयरमैन अजय कुमार समाजसेवी, भाजपा नेत्री केतकी सिंह, कांग्रेस नेत्री पूनम पाण्डेय मौजूद रही। कार्यक्रम की शुरूआत वैदिक मंत्रोच्चार, शंख ध्वनि एवं मां गायत्री के जयघोष के बीच किया गया। इस दौरान गायत्री परिवार प्रमुख विजेन्द्र नाथ चौबे ने सभी अतिथियों का मंगलटीका व अंगवस्त्र प्रदान किया। कलश यात्रा गायत्री मंदिर से चौक हनुमान मंदिर, बालेश्वर मंदिर, चित्रगुप्त मंदिर होते हुए भृगु मंदिर के परिसर में पहुंची। यहां विद्वान आचार्यों की टोली ने वैदिक मंत्रोच्चार के साथ कलश में गंगाजल भरवाया। यहां से शोभायात्रा स्टेशन मालगोदाम रोड से गुदरी बाजार होते हुए पुन: गायत्री मंदिर पहुंची। श्रद्धालु गायत्री मंत्र के साथ ही परम पूज्य गुरूदेव पं. श्रीराम शर्मा आचार्य एवं माता भगवती देवी का जयघोष करते रहे। शोभायात्रा का जगह-जगह समाजसेवियों, बुद्धिजीवियों व व्यापारियों ने पुष्प वर्षा कर स्वागत किया।

सम्पर्क मार्ग का उद्घाटन

शोभा यात्रा निकलने से पूर्व महावीर घाट से गंगा घाट मुख्य मार्ग से गायत्री शक्तिपीठ तक नवनिर्मित मार्ग का उद्घाटन सदर विधायक आनंद स्वरूप शुक्ल ने किया। कहा कि जीवन पर्यन्त गायत्री परिवार के लिए पूरी तन्मयता से कार्य करता रहूंगा। बता दें कि गायत्री परिवार मंदिर पर जाने के लिए रास्ता के लिए तरस रहा था। इसके लिए जहां घनश्याम सिंह व डॉ. सौरभ सिंह ने जमीन दिया, वहीं विधायक ने अपनी निधि से मार्ग बनवाकर राह को सुगम बना दिया।

वालेंटियर टीम सक्रिय

गायत्री शक्तिपीठ पर आयोजित 108 कुंडीय गायत्री महायज्ञ के साथ ही गायत्री परिजनों की सुविधा के लिए वालेंटियर टीम बनायी गई है। यह टीम पीला व गेरूआ ट्रैक शूट में सक्रिय है। महायज्ञ सुरक्षा प्रमुख पं. अनिल कुमार द्विवेदी ने बताया कि टीम के सदस्यों को तीन ग्रुप में बांटा गया है, जो आठ-आठ घंटे की निरंतर ड्यूटी करेंगे।

लगा चिकित्सा शिविर

गायत्री शक्तिपीठ पर आयोजित 108 कुंडीय गायत्री महायज्ञ में किसी को दिक्कत न हो, इसके मद्देनजर डीएम के निर्देश पर होमियोपैथ, आयुष योग व आयुर्वेद का नि:शुल्क चिकित्सा शिविर लगाया गया है। यह शिविर चिकित्सा प्रकोष्ठ प्रमुख पूनम पाण्डेय की देखरेख में क्रियाशील है, जो महायज्ञ की समाप्ति तक सक्रिय रहेगा।

समितियों के प्रमुखों ने निभाई अहम भूमिका

संपूर्ण कार्यक्रमों का संचालन एवं आगन्तुकों का आभार प्रकट करते हुए मीडिया प्रमुख डॉ. विजयानंद पाण्डेय ने बताया कि महायज्ञ की सफलता के लिए गठित समितियों के प्रमुखों एवं सदस्यों की टीम कर्मठता से अपने कार्य में जुटी हुई है। लालमोहन सिंह यादव, विवेक सिंह, राकेश पाण्डेय, आनंद तिवारी, आचार्य सुनील द्विवेदी, कंचन चौबे, ललिता त्रिपाठी, हेमवंती पाण्डेय, अनुज सरावगी, पूजा पाण्डेय, प्रेमलता राय आदि मौजूद रहे।
Share With :
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel

About Poonam ( चीफ इन एडीटर )

चीफ इन एडीटर

Check Also

बलिया के पुलिस निरीक्षक शशिमौली पाण्डेय को मिला डीजीपी का प्रशस्ति पत्र

वाराणसी। प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह द्वारा दिये गए प्रशस्ति पत्र के साथ एडीजी जोन …

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.