Breaking News
Home » लखनऊ » अरे ! बरेली जेल से अतीक अहमद ने ऐसा कहा

अरे ! बरेली जेल से अतीक अहमद ने ऐसा कहा

लखनऊ। जेल के अंदर से रंगदारी वसूलने के मामले में माफिया अतीक अहमद का देवरिया जेल से बरेली जेल ट्रांसफर कर दिया गया है। मंगलवार को बरेली जेल में पहुंचने के दौरान अतीक अहमद ने कहा कि उसके खिलाफ सारे आरोप गलत हैं। उसने कहा कि ये सब उसके खिलाफ राजनीतिक षड्यंत्र के तहत किया जा रहा है। अतीक अहमद ने कहा कि लोकसभा चुनाव वह लड़ेगा और अब बरेली जेल में आराम से अगले चुनाव की तैयारी करेगा। उसने कहा कि जो आरोप हैं, वो फिल्मी है। ऐसा तो फिल्मों में होता है कि व्यापारी से मेरा लेन देन है।

बता दें, पुलिस में दर्ज एफआईआर के मुताबिक इसी 26 दिसंबर को लखनऊ के रियल एस्टेट कारोबारी मोहित जायसवाल को अतीक अहमद के गुंडों ने उसकी फार्चुनर गाड़ी समेत अगवा कर लिया था। रिपोर्ट में कहा गया है कि अतीक के गुंडे मोहित को लेकर देवरिया जेल पहुंचे और उसकी अतीक अहमद के सामने पेशी हुई। आरोप है कि अतीक अहमद ने जेल के बैरक में ही इस कारोबारी को 20-25 लोगों से बेरहमी से पिटवाया। बताया जाता है कि पिटाई से कारोबारी के दाएं हाथ की कई अंगुलियां टूट गयी हैं और उसके कुल्हे में जबरदस्त चोट आई है। कारोबारी मोहित ने बताया कि अतीक अहमद बीते दो साल से उससे रंगदारी वसूल रहा था और करीब 75 लाख रुपये की वसूली कर चुका था। इसी अतीक अहमद को मोहित जायसवाल की कंपनियों और जमीनों के बारे में पता चला है।

इस बीच अतीक के गुर्गों फारुक और जकी अहमद ने मोहित के गोमतीनगर स्थित रियल एस्टेट के दफ्तर पर कब्जा कर लिया। इतना होने के बाद भी अतीक अहमद ने मोहित से जेल से ही फोन पर धमकी दी कि वह अपनी जमीनों और कंपनियों को उसके आदमियों के नाम कर दे। इसके बाद देवरिया जेल में माफिया अतीक अहमद की बैरक की तलाशी के बाद प्रशासन ने कड़ा कदम उठाते हुए सोमवार को डिप्टी जेलर देवकांत यादव समेत हेड वार्डन मुन्ना पांडेय, वार्डन राजेश कुमार शर्मा और राम आसरे को दोषी मानते हुए निलंबित कर दिया है।

देवरिया जेल के अधीक्षक दिलीप पांडेय और जेलर मुकेश कटियार के खिलाफ विभागीय कार्रवाई करने के साथ ही अतीक अहमद को बरेली जेल भेजने की सिफारिश की गई है। साथ ही जेल की सीसीटीवी फुटेज डिलीट करने के मामले की जांच के लिए एक कमेटी का गठन किया गया है। उधर, प्रमुख सचिव (गृह) ने कहा है कि सरकार ने इस मामले में एडीजी (जेल) से रिपोर्ट तलब की है, ताकि जेल में हुई गड़बड़ियों की जिम्मेदारी तय की जा सके।

Share With :
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel

About Poonam ( चीफ इन एडीटर )

चीफ इन एडीटर

Check Also

पढ़ाई के साथ परीक्षाओं की गंभीरता और पवित्रता पर भी होना चाहिए गौर

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शिक्षा विभाग की समीक्षा के दौरान अधिकारियों को जो दिशा …

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.