Home » खेल-खिलाड़ी » क्रिकेट : यासिर शाह ने तोड़ा 82 साल पुराना रिकार्ड

क्रिकेट : यासिर शाह ने तोड़ा 82 साल पुराना रिकार्ड

नई दिल्ली। पाकिस्तान के यासिर शाह ने गुरुवार को टेस्ट में अपने 200 विकेट पूरे किए। वे सबसे कम 33 टेस्ट में इतने विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं। शाह ने न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन मैच की सीरीज के आखिरी टेस्ट के चौथे दिन जैसे ही विलियम सोमरविले को एलबीडब्ल्यू किया, 82 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया। शाह से पहले यह रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के क्लेरेंस विक्टर ग्रिम्मेट के नाम था। ग्रिम्मेट ने 15 फरवरी 1936 को अपने 36वें टेस्ट में 200 विकेट पूरे किए थे।

आखिरी 50 विकेट छह टेस्ट में लिए

32 साल के लेग स्पिनर यासिर ने अपने टेस्ट करियर की शुरुआत अक्टूबर 2014 में दुबई में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच से की थी। उस मैच में उन्होंने 116 रन देकर सात विकेट लिए थे। उन्होंने अपना 100वां विकेट 13 अक्टूबर 2016 को 17वें टेस्ट और 150वां विकेट 28 सितंबर 2017 को 27वें टेस्ट में लिया था। वे सबसे कम टेस्ट में 100 विकेट लेने वाले पाकिस्तानी क्रिकेटर हैं। हालांकि, उनको अपने शुरुआती 50 विकेट लेने में नौ टेस्ट खेलने पड़े थे। टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेजी से 200 विकेट लेने के मामले में रविचंद्रन अश्विन तीसरे नंबर पर हैं। उन्होंने 37 टेस्ट में यह मुकाम हासिल किया था। टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 200 विकेट लेने वाले शीर्ष तीनों गेंदबाज स्पिनर हैं।

न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के पहले दो टेस्ट में लिए थे 22 विकेट

यासिर ने सीरीज के पहले दो टेस्ट में 22 विकेट लिए थे। सीरीज का पहला मैच न्यूजीलैंड और दूसरा पाकिस्तान ने जीता है। इस मैच में न्यूजीलैंड ने पहली पारी में 274 रन बनाए। पाकिस्तान की ओर से बिलाल आसिफ ने सबसे ज्यादा पांच विकेट लिए थे। पाकिस्तान ने अजहर अली और असद शफीक के शतक की बदौलत पहली पारी में 348 रन बनाए। न्यूजीलैंड की ओर से विलियम सोमरविले ने 75 रन देकर चार विकेट लिए थे। न्यूजीलैंड दूसरी पारी में 85 ओवर में चार विकेट पर 231 रन बना लिए हैं।

सीरीज शुरू होने से पहले उठ गया था सिर से मां का साया

सीरीज शुरू होने से पहले यासिर की मां की मृत्यु हो गई थी। इसके बावजूद उन्होंने टीम के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। उन्‍होंने दूसरे टेस्ट में पाकिस्‍तान को जीत दिलाई। उस मैच में जीत के बाद तब यासिर ने कहा था, ‘सीरीज के लिए यहां आना बेहद मुश्किल भरा था। मैं बहुत तनाव में था। मां के बिना आपका वजूद नहीं है। मैं जब मैच खेलने के लिए जाता था, तो अपनी मां से पांच विकेट लेने की दुआ करने के लिए कहता था, तब मां कहती थीं कि केवल पांच विकेट ही क्यों, 10 या 15 विकेट क्यों नहीं? मैं 14 विकेट लेने की उपलब्धि अपनी मां को समर्पित करता हूं।’

Share With :
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel
Do Not Forgot To subscribe Purvanchal24 Youtube Offcial Channel

About Poonam ( चीफ इन एडीटर )

चीफ इन एडीटर

Check Also

अष्ट शहीदों की धरती पर लगेगा वॉलीबाल का महाकुंभ

गाजीपुर। अष्ट शहीदों की पावन धरती शेरपुर में मार्च के अंतिम सप्ताह में वॉलीबाल का …

error: Content is protected !!
Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.